Thursday, July 29, 2021
Home झारखण्ड लोहरदगा जिंदा दफना दिये गए नवजात शिशु के रोने की आवाज सुन राहगीर...

जिंदा दफना दिये गए नवजात शिशु के रोने की आवाज सुन राहगीर ने बचायी जान, बाहर निकाला

आवाज डेली
लोहरदगा। लोहरदगा में शनिवार को जिंदा दफना दिये गए एक नवजात शिशु के रोने की आवाज सुनकर राहगीर ने उसकी जान बचा ली।

राह चलते उसने यह आवाज सुनी तो वहां से भागा नहीं, बल्कि समय रहते वहां जाकर देखने पर वहां एक नवजात को मिट्टी में आधा-अधूरा दफन देखा। उसे सही सलामत मिट्टी से बाहर निकाला। फिलहाल वह सुरक्षित है।

शमशान में मिट्टी में दफन नवजात के मिलने की सूचना पर कुडू थाना प्रभारी अनिल उरांव, एसआइ मुरारी कुमार पहुंचे और मामले की जानकारी ली।

कुडू थाना प्रभारी अनिल उरांव का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। नवजात के माता-पिता का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है। बाल कल्‍याण समिति के सदस्य भी गांव पहुंच गए ।

फिलहाल नवजात सुरक्षित है और गांव के एक परिवार के पास है। यह परिवार नवजात को रविवार को कुडू थाना पुलिस के हवाले करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

झारखंड के सियासत की हांडी में फिर पक रही खिचड़ी, खेला होबे

रांची/ हज़ारीबागझारखंड की हेमंत सोरेन सरकार पर खतरा मंडरा रहा है। क्योंकि झारखंड के सियासत की हांडी में एकबार फिर पक रही खिचड़ी। खेला...

पतरातु डैम से जिस युवती की मिली लाश, वह निकली हजारीबाग मेडिकल काॅलेज की छात्रा

आवाज डेलीहजारीबाग । पतरातू डैम में 26 वर्षीया जिस युवती का हांथ- पैर बांधकर उसकी लाश डैम में फेंक दिया गया था,...

हज़ारीबाग नगर निगम के प्रधान लिपिक का निधन

आवाज डेलीहज़ारीबाग। नगर निगम के प्रधान लिपिक संजय कुमार का शुक्रवार को निधन हो गया। 45 वर्षीय संजय हनुमान मंदिर के पास...

एक सेवानिवृत पुलिस अधिकारी के प्रति विभाग बना अंजान

आवाज संवाददाता हजारीबाग। नौकरी में रहते हुए जिस पुलिस अधिकारी ने विभाग को अहमियत दी उन्हीं के लिये विभाग...

Recent Comments

error: Content is protected !!